breaking news

आज है रोज़ डे – चमन के फूल भी तुझ को गुलाब कहते हैं…

February 7th, 2017 | by admin
आज है रोज़ डे – चमन के फूल भी तुझ को गुलाब कहते हैं…
विशेष आलेख
1

कविता बिंदल

वैसे तो फूल सदा से अपनी भावनाओं का व्यक्त करने का माध्यम रहे हैं पर वैलेंटाइन वीक में इनका खासा महत्व बढ़ जाता है | और क्यों न हो फूल किसे न कूल कर दें | मतलब ये की आज रोज-डे है यानि फूलों के जरिए अपने दिल की बात अपने करीबियों से कहने, समझाने और जो रूठे हैं उन्‍हें मनाने का दिन. अगर आप भी अपने किसी करीबी से दिल की बात कहना चाह रहे हैं, तो रोज-डे इसके लिए सबसे परफेक्‍ट दिन है. खिला हुआ गुलाब का फूल जब कोई देखता है, तो उसके चेहरे पर एक भीनी-सी मुस्‍कान आ जाती है और सारा गुस्‍सा छू-मंतर हो जाता है |
रोज-डे को आमतौर पर गर्लफ्रेंड और ब्‍वॉयफ्रेंड से जोड़कर ही देखा जाता है. लेकिन असल में ये प्‍यार का इजहार करने का दिन है. इस दिन आप अपनी मां को गुलाब देकर बता सकते हैं कि वह उनकी जिंदगी में क्‍या मायने रखती हैं. बहन को गुलाब देकर ये बता सकते हैं कि आप उससे कितना प्‍यार करते हैं. भाई को गुलाब देकर यह जता सकते हैं कि वह उनके सिर्फ भाई ही नहीं अच्‍छे दोस्‍त भी हैं. फिर फूल तो होते ही खुशियां बिखेरने के लिए हैं. इसलिए हर शुभ कार्य में फूलों का इस्‍तेमाल किया जाता है. तो आप भी इस रोड-डे पर अपने करीबियों को फूल देकर कीजिए अपने प्‍यार का इजहार.
हालांकि आप प्यार का इज़हार चाहे जैसे भी करे पर जवाब में हमेशा प्यार ही मिले ये जरूरी नहीं है | इसलिए , बस खुशियाँ बांटिये और बेफिक्र हो जाइए | हां अगर रूठों को मानाने और प्यार का इज़हार करने से ज्यादा मामला गंभीर है तो फिर कल तक इंतज़ार करिए क्योंकि काल्हि प्रपोज डे | अब इसके बारे में तो कल ही बताएँगे |

Share this:

One Comment

  1. nageswari says:

    फूल नाराजगी ही नही मन का सारा बोझ हल्का कर देता है. हम चाहते है कि सभी एक दूसरे को फूल देकर सब खुश रहे स्नेह सरिता बहाते रहे समाज और देश को शांति प्रदान करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »